वली डाड के उपहार : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Vali Dad Ke Uphar : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameवली डाड के उपहार / Vali Dad Ke Uphar
Author
Category, , , ,
Language
Pages 18
Quality Good
Size 2.5 MB
Download Status Available

वली डाड के उपहार का संछिप्त विवरण : अगले दिन वली ने सारे पैसे एक थैले में रख लिए और थैले को उठा कर बाजार में एक जौहरी के पास आया। उन पैसों से उसने सोने का एक सुंदर कंगन खरीद लिया। फिर वली एक सौदागर के घर आया। “मुझे बताओ ,” वली ने पूछा, “सारे संसार में सबसे नेक औरत कौन है ? “निस्संदेह,” सौदागर ने कहा, “खिस्तान की सुंदर रानी सबसे नेक है , मैं प्राय उसके महल मैं जाता हूँ………

Vali Dad Ke Uphar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Agale Din Vali Ne Sare Paise ek thaile mein rakh lie aur thaile ko utha kar Bazar mein ek Jauhari ke pas Aaya. Un Paison se usane sone ka ek sundar kangan khareed liya. Phir vali ek Saudagar ke ghar aaya. Mujhe Batao , Vali ne Poochha, Sare sansar mein Sabase nek Aurat kaun hai ? Nissandeh, Saudagar ne kaha, Khistan kee sundar Rani Sabase nek hai , Main Pray usake mahal main jata hoon……
Short Description of Vali Dad Ke Uphar PDF Book : The next day Wali put all the money in a bag and after picking up the bag came to a jeweler in the market. With those money, he bought a beautiful gold bracelet. Then Vali came to a merchant’s house. “Tell me,” Wali asked, “Who is the most noble woman in the whole world?” “Undoubtedly,” Saudagar said, “The beautiful queen of Khistan is the most noble, I often go to her palace ……”
“आप किसी चीज़ का विशद ज्ञान हासिल करना चाहते हैं तो इसे दूसरों को सिखाने लगिए” ‐ ट्रायन एडवर्ड्स
“If you would thoroughly know anything, teach it to others.” ‐ Tryon Edwards

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment