विद्यापति गोष्ठी : डॉ. श्री सुकुमार सेन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Vidhyapati Goshthi : by Dr. Shri Sukumar Sen Hindi PDF Book – Granth

विद्यापति गोष्ठी : डॉ. श्री सुकुमार सेन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Vidhyapati Goshthi : by Dr. Shri Sukumar Sen Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name विद्यापति गोष्ठी / Vidhyapati Goshthi
Author
Category,
Pages 135
Quality Good
Size 40 MB
Download Status Available

विद्यापति गोष्ठी का संछिप्त विवरण : तेरहवीं शताब्दी सत्रहवीं शताब्दी तक, प्राय पांच सौ वर्षों की अवधि में मिथिला-मोरंग एवं नेपाल के राजाश्रय में जिस साहित्य की सृष्टि हुई थी, विद्यापति-रहस्य के ग्रन्थिमोचन के लिए यहाँ मैंने उसके धारावाहिक इतिहास को देने की चेष्टा की है। साथ ही मैंने बंगाल के साथ इन समस्त देशों का जो घनिष्ट सम्बन्ध सूत्र था…….

Vidhyapati Goshthi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Terahavein shatabdei satrahaveen shatabdi tak, pray panch sau varshon kee avadhi mein mithila-morang evan nepal ke Rajashray mein jis sahity kee srshti huyi thee, vidyapati-rahasy ke granthimochan ke liye yahan mainne usake dharavahik itihas ko dene kee cheshta kee hai. Sath hee mainne bangal ke sath in samast deshon ka jo ghanisht sambandh sootr tha…………
Short Description of Vidhyapati Goshthi PDF Book : From the thirteenth century to the seventeenth century, I have tried to give here the serial history of Vidyapati-mystique to the literature which was created in the reign of Mithila-Morang and Nepal over a period of five hundred years. At the same time, I had a close relationship between Bengal and all these countries………..
“जीवन में दो मूल विकल्प होते हैं: स्थितियों को उसी रूप में स्वीकार करना जैसी वे हैं, या उन्हें बदलने का उत्तरदायित्व स्वीकार करना।” ‐ डेनिस वेटले
“There are two primary choices in life: to accept conditions as they exist, or accept the responsibility for changing them.” ‐ Denis Waitley

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment