योगी कथामृत हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड | Yogi Kathamrita Hindi Book Free Download

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name योगी कथामृत / Yogi Kathamrita
Author
Category, , ,
Language
Pages 736
Quality Good
Size 16.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : योगानन्दजी की “आत्मकथा” का महत्त्व इस तथ्य के प्रकाश में बहुत अधिक बढ़ जाता है कि यह भारत के ज्ञानो पुरुषों के विषय में अंग्रेज़ी में लिखी गयी गिनी-चुनी पुस्तकों में से एक है, जिसके लेखक महोदय न तो पत्रकार हैं और न कोई विदेशी, बल्कि वे स्वयं वैसे ही ज्ञानी महापुरुषों में से एक हैं-सारांश यह कि योगियों के विषय में स्वयं एक योगी द्वारा लिखी गयी यह पुस्तक है।…………

Pustak ka Vivaran : Yogaanandajee ki “aatmakatha” ka mahattv is tathy ke prakaash mein bahut adhik badh jaata hai ki yah bhaarat ke gyaano purushon ke vishay mein angrezee mein likhee gayee ginee-chunee pustakon mein se ek hai, jisake lekhak mahoday na to patrakaar hain aur na koee videshee, balki ve svayan vaise hee gyaanee mahaapurushon mein se ek hain-saaraansh yah ki yogiyon ke vishay mein svayan ek yogee dvaara likhee gayee yah pustak hai………….

Description of the book: The importance of Yoganandji’s “autobiography” increases greatly in the light of the fact that it is one of the few books written in English about the wise men of India, whose author is neither a journalist nor a journalist. And not a foreigner, but he himself is one of such wise men – in summary, this book is written by a yogi himself about yogis.

“ऐसा व्यक्ति जो अनुशासन के बिना जीवन जीता है वह सम्मान रहित मृत्यु मरता है।” ‐ आईसलैण्ड की कहावत
“He who lives without discipline dies without honor.” ‐ Icelandic Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

3 thoughts on “योगी कथामृत हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड | Yogi Kathamrita Hindi Book Free Download”

Leave a Comment