आधी रात रेल की सीटी : धर्मवीर भारती द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Aadhi Rat Rail Ki Seeti : by Dharamveer Bharti Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

आधी रात रेल की सीटी : धर्मवीर भारती द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - उपन्यास | Aadhi Rat Rail Ki Seeti : by Dharamveer Bharati Hindi PDF Book - Novel (Upanyas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आधी रात रेल की सीटी / Aadhi Rat Rail Ki Seeti
Author
Category, , , ,
Language
Pages 6
Quality Good
Size 141 KB

पुस्तक का विवरण : जैसे आधी रात जाल फेंके जाने पर जल की सतह कैंप उठती है, वैसे ही रात का फैलाव, रात की खामोशी, रात का अँधियारा काँपने लगता है। नीम और पीपल की टहनियां जैसे स्लेट पर खीचीं लाइनों की तारा पुछने लगती है। मन की आँखों के आगे टेढ़ी-मेड़ी रेखाओं से एक दूसरा चित्र उभरा रह है। रेलवे स्टेशन का लम्बा प्लेटफार्म , तीन से छाया हुआ। ट्रेन जा चुकी है……..

Pustak Ka Vivaran : Jaise Aadhee rat jal phenke jane par jal kee satah camp uthati hai, vaise hee rat ka phailav, rat kee khamoshi, rat ka andhiyara kanpane lagata hai. Neem aur peepal kee tahaniyan jaise slet par kheecheen lainon kee tara puchhane lagatee hai. Man kee Ankhon ke Aage tedhee-medee rekhaon se ek doosara chitr ubhara rah hai. Relave steshan ka lamba pletapharm , teen se chhaya huya. train ja chuki hai…………

Description about eBook : Just as the midnight trap is thrown, the surface of the water rises the camp, similarly the spread of the night, the silence of the night, the darkness of the night shiver. On the slate, such as neem and peeple twigs, the star of the drawn lines begins to ask. A second image has emerged from the mind’s eyes with crooked lines. The long platform of the railway station, capped by three. The train is gone………..

“चोट मारने के लिए लोहे के गर्म होने की प्रतीक्षा न करें, लेकिन इसे चोट मार मार कर गर्म करें।” ‐ विलियम बी. स्प्रेग
“Do not wait to strike till the iron is hot; but make it hot by striking.” ‐ William B. Sprague

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment