आधुनिक अर्थशास्त्र : पी. सी. जैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Adhunik Arthashastra : by P. C. Jain Hindi PDF Book

Author
Category,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“जो आप करवाना चाहते हैं वह किसी और से उसकी इच्छा से करवाने की कला ही नेतृत्व है।” ड्वाइट आइज़ेन्होवर
“Leadership is the art of getting someone else to do something you want done because he wants to do it.” Dwight Eisenhower

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

आधुनिक अर्थशास्त्र : पी. सी. जैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Adhunik Arthashastra : by P. C. Jain Hindi PDF Book

आधुनिक अर्थशास्त्र : पी. सी. जैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Adhunik Arthashastra : by P. C. Jain Hindi PDF Book

  • Pustak Ka Naam / Name of Book : आधुनिक अर्थशास्त्र / Adhunik Arthashastra
  • Pustak Ke Lekhak / Author of Book : पी. सी. जैन / P. C. Jain
  • Pustak Ki Bhasha / Language of Book : हिंदी / Hindi
  • Pustak Ka Akar / Size of Ebook : 24.6 MB
  • Pustak Mein Kul Prashth / Total pages in ebook : 594
  • Pustak Download Sthiti / Ebook Downloading Status : Best

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

आधुनिक अर्थशास्त्र : पी. सी. जैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Adhunik Arthashastra : by P. C. Jain Hindi PDF Book

Pustak Ka Vivaran : pratyek vyakti kee anek aavashyakataen hotee haimparantu jin vastuon ya sevaon mein aavashyakata-poorti kee shakti hotee hai ve mupht nahin milatee. un vastuon ya sevaon ke praapt karane ke lie parishram karana padata hai…………

अन्य राजनीतिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए- “राजनैतिक हिंदी पुस्तक

Description about eBook : Each person has many needs, but the goods or services which have the need-fulfillment power, do not get free. It requires diligence to obtain those goods or services……………..

To read other Political books click here- “Hindi Political Books

 

सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें

 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

 

“मैं अपने भाग्य का नियंत्रक हूं, मैं अपनी आत्मा का नियंता हूं।”
– विलियम अर्न्स्ट हेन्ले
——————————–
“I am the master of my fate; I am the captain of my soul.”
– William Ernest Henley
Connect with us on Facebook and Instagram – सोशल मीडिया पर हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज लाइक करें. लिंक नीचे दिए है

Leave a Comment