आत्मबोध : डॉ. नीरूबहन अमीन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Atmabodh : by Dr. Neeru Bahan Ameen Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

Book Nameआत्मबोध / Atmabodh
Author
Category, ,
Language
Pages 81
Quality Good
Size 327 KB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : विश्व में कभी कभार आत्ज्ञानी पुरुष अवतरित होते है, तभी यह आध्यात्मिक रहस्य खुल पाता है। संसार में जो भी वह भौतिक ज्ञान है, रिलेटिव ज्ञान है। उससे आत्म साक्षात्कार कभी नहीं हो सकता। ज्ञानी पुरुष को आत्मा का अनुभव होने से आत्मा साक्षात्कार की प्राप्ति हो सकती है। आत्मा पर तो गीता में, उपनिषद में, वेद में, आगम में बड़े बड़े ग्रन्थ संकलित हो जायें…….

Pustak Ka Vivaran : Vishv mein Kabhi kabhar Aatmagyani Purush Avatarit hote hai, Tabhi yah Aadhyatmik Rahasy khul pata hai. Sansar mein jo bhee vah bhautik gyan hai, Rilative gyan hai. Usase Aatm Sakshatkar kabhi nahin ho sakata. Gyani Purush ko aatma ka anubhav hone se aatma Sakshatkar kee prapti ho sakati hai. Aatma par to Geeta mein, Upanishad mein, Ved mein, Aagam mein bade bade granth sankalit ho jayen…….

Description about eBook : Sometimes spiritual men emerge in the world, only then this spiritual mystery is revealed. Whatever that physical knowledge is in the world, it is relative knowledge. It can never be a self-interview. The knowledgeable man can experience the soul by experiencing the soul. On the soul, in the Gita, in the Upanishads, in the Vedas, in Agam, great books should be compiled …….

“व्यवहारकुशलता लोगों को यह विश्वास दिलाने की कला है कि वे आप से अधिक जानते हैं।” ‐ रेमंड मॉर्टीमर
“Tact is the art of convincing people that they know more than you do.” ‐ Raymond Mortimer

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment