सरल शिव पुराण : हिंदी ऑडियो बुक | Saral Shiv Puran : Hindi Audiobook

AudioBook Nameसरल शिव पुराण / Saral Shiv Puran
Author
Category,
Language
Duration6:05:37 hrs
SourceYoutube

Saral Shiv Puran Hindi Audiobook का संक्षिप्त विवरण : पुराण प्राचीनतम धर्मग्रंथ होने के साथ-साथ ज्ञान, विवेक, बुद्धि और दिव्य प्रकाश के स्रोत हैं। इनमें हमें प्राचीनतम धर्म, चिंतन, इतिहास, समाज शास्त्री, राजनीति और अन्य अनेक विषयों का विस्तृत विवेचन पढ़ने को मिलता है। इनमें ब्रह्मांड (सर्ग) की रचना, क्रमिक विनाश और पुनर्रचना (प्रतिसर्ग), अनेक युगों (मन्वंतरों), सूर्य वंश और चंद्र वंश आदि के संपूर्ण इतिहास और उनकी वंशावली का विस्तृत वर्णन मिलता है। पुराण समय के साथ बदलते जीवन की विभिन्न अवस्थाओं व पक्षों का प्रतिनिधित्व करते हैं। ये ऐसे प्रकाशगृह हैं जो वैदिक सभ्यता और सनातन धर्म को प्रदीप्त करते हैं। ये हमारी जीवनशैली और विचारधारा पर भी महत्ती प्रभाव डालते हैं। गागर में सागर भर देना अच्छे रचनाकार की पहचान होती है। किसी रचनाकार ने अठारह पुराणों के सार को एक ही श्लोक में व्यक्त कर दिया है-
परोपकाराय पुण्याय पापाय पर पीड़नम्।
अष्टादश पुराणानि व्यासस्य वचन द्वयं।।
अर्थात् व्यास मुनि ने अठारह पुराणों में दो ही बातें मुख्यतः कही हैं कि परोपकार करना संसार का सबसे बड़ा पुण्य है और किसी को पीड़ा पहुँचाना सबसे बड़ा पाप। इसलिए किसी व्यक्ति को दुःख या पीड़ा पहुँचाने के बजाए मनुष्य को अपना जीवन परोपकार के मार्ग में लगाना चाहिए।
इस पुस्तक के माध्यम से शिव पुराण को सरल और रोचक भाषाशैली में प्रस्तुत किया गया है। अन्य धार्मिक ग्रंथों की भाँति इस धर्मग्रंथ में शिवजी की अनेक लीलाओं का वर्णन किया गया है। आशा है कि यह ग्रंथ पाठकों की कसौटी पर खरा उतरेगा और उन्हें शिव पुराण के संबंध में व्यापक ज्ञान प्रदान कर उनके भक्तिभाव में वृद्धि करेगा।

“शिक्षा किसी घड़े को भरने जैसा नहीं है, यह तो अग्नि प्रज्ज्वलित करने जैसा है।” डब्लू बी यीट्स
“Education is not the filling of a pail, but the lighting of a fire.” W.B. Yeats

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment