चार अध्याय : रवीन्द्रनाथ ठाकुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Char Adhyaya : by Ravindra Nath Thakur Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

Book Nameचार अध्याय / Char Adhyaya
Author
Category, , , ,
Language
Pages 130
Quality Good
Size 1998 KB

पुस्तक का विवरण : अनुवाद आखिर अनुवाद ही है किन्तु इतना अवश्य है कि केवल शब्दो के पीछे यत्रवत न भागकर भावना के निर्मल सरोवर में अवगाहन भी किया गया है ! फिर भी अनुवाद अपनी शास्त्रीय रीति पर प्रतिष्ठित है। न तो रबर की तरह बढाने की चेष्टा ही की गयी है ओर न रुई को तरह संकुचित करने की । अत:………

Pustak Ka Vivaran : Anuvad aakhir anuvad hi hai kintu itana avashy hai ki keval shabdo ke peechhe yatravat na bhagkar bhavana ke nirmal sarovar mein avagahan bhi kiya gaya hai ! Phir bhi anuvad apni shastriy reeti par pratishthit hai. Na to rabar ki tarah badhane ki cheshta hi ki gayi hai or na ruyi ko tarah sankuchit karne kio . At:………

Description about eBook : Translation is translation after all, but it is necessary that by not running after mere words, it has also been visited in the pure lake of emotion! Yet the translation is distinguished in its classical manner. Neither effort has been made to expand like rubber nor to shrink cotton like that. So………

“चिंता के समान शरीर का नाश करने वाला और कुछ नहीं है, सो जिसे भी ईश्वर में जरा भी विश्वास हो उसे किसी बात की चिंता करने की ज़रूरत नहीं।” महात्मा गांधी
“There is nothing that wastes the body like worry, and one who has any faith in God should be ashamed to worry about anything whatsoever.” Mahatma Gandhi

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment