गांधीवाद की शव परीक्षा की ज़रूरत हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Gaandhiwaad Ki Shav Pariksha Ki Zaroorat Hindi PDF Book

गांधीवाद की शव परीक्षा की ज़रूरत हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Gaandhiwaad Ki Shav Pariksha Ki Zaroorat Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name गांधीवाद की शव परीक्षा की ज़रूरत / Gaandhiwaad Ki Shav Pariksha Ki Zaroorat
Author
Category, , , ,
Pages 172
Quality Good
Size 6.7 MB
Download Status Available

गांधीवाद की शव परीक्षा की ज़रूरत का संछिप्त विवरण : उस समय के राजनैतिक वातावरण मे सत्याग्रह और असहयोग का अर्थ जनता ने समझा अपने आधिकार की प्राप्ति के लिय संघर्ष और उसे बंधन मे रखनेवाली शक्ति की सहायता न करना। सार्वजनिक आंदोलन के रूप मे उसे खूब सफलता मिली। शासक शक्ति के विरोध मे…..

Gaandhiwaad Ki Shav Pariksha Ki Zaroorat PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Us samay ke raajanaitik vaataavaran me satyaagrah aur asahayog ka arth janata ne samajha apane aadhikaar kee praapti ke liy sangharsh aur use bandhan me rakhanevaalee shakti kee sahaayata na karana. saarvajanik aandolan ke roop me use khoob saphalata mili. shaasak shakti ke virodh me…………
Short Description of Gaandhiwaad Ki Shav Pariksha Ki Zaroorat PDF Book : In the political atmosphere of that time, the meaning of satyagraha and non-cooperation has not been understood by the public as to the struggle for achieving its rights and the power to keep it in bondage. He has great success as a public movement Against the power of rulers…………..
“ऐसे लोगों के लिए परिणाम सर्वश्रेष्ठ रहते हैं जो कि सामने आने वाली परिस्थितियों में सर्वश्रेष्ठ कार्य निष्पादन करते हैं।” ‐ आर्ट लिंकलैटर
“Things turn out best for the people who make the best out of the way things turn out.” ‐ Art Linkletter

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment