हड़ताल : जान गाल्सवर्दी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Hartal : by John Galsworthy Hindi PDF Book – Drama (Natak)

Book Nameहड़ताल / Hartal
Author
Category, , , , , ,
Language
Pages 272
Quality Good
Size 66 MB
Download Status Available

हड़ताल का संछिप्त विवरण : हम यह चाहते है कि हमारे नाटक लिखने वाले इन ड्रामों की तरफ ध्यान दें और हमारे देश के रहने वाले इनमें दिलचस्पी लें। यह तो सब मानेंगे कि आदमी योरुप के हो या एशिया के-आदमी है। रीति रिवाज के झीने परदे इनमें कितना ही अंतर क्‍यों न बना दें लेकिन वे ही विचार, सब कहीं मौजूद है। यदि योरुप के ड्ामे हिंदुस्तानी भाषा……

Hartal PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Ham yah chahate hai ki hamare natak likhane vale in dramon ki taraph dhyan den aur hamare desh ke rahane vale inamen dilachaspi len. Yah to sab manenge ki aadami Europ ke ho ya eshiya ke-Aadami hai. Reeti Rivaj ke jheene parade inamen kitana hee antar kyon na bana den lekin ve hee vichar, sab kahin maujood hai. Yadi Europ ke drame hindustani bhash………..
Short Description of Hartal PDF Book : We want our drama writers to pay attention to these dramas and the people of our country should take interest in them. All of them will believe that the man is of Europe or of Asia. No matter how much difference they make in the veil of custom, but those thoughts exist everywhere. If Yorup’s dramas are Hindustani language………….
“कोई काम शुरू करने से पहले, स्वयं से तीन प्रश्न पूछिए – मैं यह क्यों कर रहा हूं, इसके परिणाम क्या हो सकते हैं और क्या मैं सफल हो पाऊंगा। जब गहराई से सोचने पर इन प्रश्नों के संतोषजनक उत्तर मिल जायें, तब आगे बढ़ें।” चाणक्य
“Before you start some work, always ask yourself three questions – Why am I doing it, What the results might be and Will I be successful. Only when you think deeply and find satisfactory answers to these questions, go ahead.” Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment