किसानो की कामधेनु : श्री दुलारेलाल भार्गव द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Kisano Ki Kaamdhenu : by Shri Dularelaal Bhargav Hindi PDF Book

किसानो की कामधेनु : श्री दुलारेलाल भार्गव द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Kisano Ki Kaamdhenu : by Shri Dularelaal Bhargav Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name किसानो की कामधेनु / Kisano Ki Kaamdhenu
Category
Language
Pages 64
Quality Good
Size 3.8 MB
Download Status Available

किसानो की कामधेनु का संछिप्त विवरण : यह देखते हुए की भारतवर्ष शाकाहारियो का देश है और जहाँ पर प्रकृति की कृपा से सब प्रकार के फलो की खेती के योग्य भूमि और जलवायु विधमान है- समस्त संसार में आज उच्च कोटि काफल व्यवसायी हमारे देश को होना चाहिये परन्तु खेद है की अन्य विषयों की भांति इस कला में भी यह बहुत पिछड़ा हुआ है……………..

Kisano Ki Kaamdhenu PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kisan bhaiyon, kya tumane apane dukhon ke kaarano ko dhoondhane ka kabhi yatn kiya hai? Ya unko apane bhaagy ka phal maanakar chupachaap sahate chale jaate hon? Mainne tum logon kee dashakon dekhakar jahaan tak vichaar kiya hai vahaan tak mere samajhame yahee baat aatee hai kee tum, log apane dukhon ko apane naseeb ka phal maan kar chup rah jaate hai………….
Short Description of Kisano Ki Kaamdhenu PDF Book : Farmers, brothers, have you ever tried to find the causes of your sorrows? Or do you consider them to be the result of your fate and go quietly? As far as I have seen the decades of people, I think this is the thing that you, people, keep silent as the result of your own destiny……………
“आप जितना अपने कार्यकलापों की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार रहते हैं, उतने ही विश्वसनीय बनते हैं।” ब्रायन कोसलो
“The more you are willing to accept responsibility for your actions, the more credibility you will have.” Brian Koslow

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment