मालकौंस : अनन्त कुमार पाषाण द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कविता | Malkauns : by Anant Kumar Pashan Hindi PDF Book – Poem (Kavita)

मालकौंस : अनन्त कुमार पाषाण द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कविता | Malkauns : by Anant Kumar Pashan Hindi PDF Book - Poem (Kavita)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मालकौंस / Malkauns
Author
Category, , , , , , ,
Language
Pages 122
Quality Good
Size 785 KB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : हो सकता है। कुछ भी हो सकता है। मगर मैं, जिसका संगीत का ज्ञान सीमित है और जो उस्तादों के सामने अपने को तानपूरा मिलाने के योग्य भी नहीं समझता, क्या कह सकता हूँ। सिवाय इसके कि आज संगीत पढ़ने की चीज हैं तो कल देखने की ओर परसा के संगीतकारों कारण यह घराना अंग्रेजों और अन्य घराना……

Pustak Ka Vivaran : Ho Sakata hai. Kuchh bhee ho Sakata hai. Magar main, jisaka sangeet ka gyan seemit hai aur jo ustadon ke samane apane ko Tanapoora milaane ke yogy bhee nahin samajhata, kya kah sakata hoon. Sivay Isake ki Aaj sangeet padhane kee cheej hain to kal dekhane kee or parasa ke sangeetakaron karan yah gharana Angrejon aur any gharana……….

Description about eBook : It is possible. Anything can happen. But what can I say, whose knowledge of music is limited and who do not even consider themselves worthy of mixing with the masters. Except that today music is the thing to be read, then to see tomorrow, the musicians of Parsa cause this house British and other houses……….

“एक बुद्धिमान व्यक्ति के प्रश्न में भी आधा उत्तर छिपा रहता है।” – सोलोमन इब्न गैबिरोल
“A wise man’s question contains half the answer.” -Solomon Ibn Gabirol

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment