मुद्राराक्षस नाटक हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Mudrarakshas Natak Hindi PDF Book

मुद्राराक्षस नाटक हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Mudrarakshas Natak Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मुद्राराक्षस नाटक / Mudrarakshas Natak
Author
Category,
Pages 260
Quality Good
Size 3.37 MB
Download Status Available

मुद्राराक्षस नाटक का संछिप्त विवरण : बिना राक्षस को वश में किए मैने नंद-बंश का क्या विनाश कर दिया अथवा चद्रगुप्त की राजलक्ष्मी को क्या अटल बना दिया? अहा ! राक्षम नंद-कुल का अत्यंत इढ भक्त है वह निश्चय ही नंदबंशीय किसी भी व्यक्ति के जीते जी, चद्रगुप्त का मंत्री बनाया जा सकता | यदि वह उसे राज्य दिलाने के लिए यत्न न करे, तो वह चंद्रगुप्त का मत्री बनाया जा सकता है…….

Mudrarakshas Natak PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Vina rakshas ko vash mein kie maine nand-vansh ka kya vinash kar diya athava chadragupt ki rajalakshmi ko kya atal bana diya? aha ! raksham nand-kul ka atyant drdh bhakt hai vah nishchay hee nand-vanshiy kisi bhi vyakti ke jite ji, chadragupt ka mantri banaya ja sakata…………..
Short Description of Mudrarakshas Natak PDF Book : What destruction have I made of Nand-dynasty in the subjugation of monsters, or what has made Rajlakshmi of Chandragupta? Aha! Rakshita is a very strong devotee of Nand-Kul is sure that he can certainly be the minister of Chandragupta, who is the winner of any Nand-clan………
“दूसरों की पुष्टि पर निर्भर करने की तुलना में स्वयं को जानने तथा स्वीकार करने- अपनी शक्तियों तथा अपनी सीमाओं को जान लेने से वास्तविक विश्वास की उत्पत्ति होती है।” ‐ जूडिथ एम. बार्डविक
“Real confidence comes from knowing and accepting yourself – your strengths and your limitations – in contrast to depending on affirmation from others.” ‐ Judith M. Bardwick

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment