मुझे विश्वास है | : विमल मित्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Mujhe Viswas Hai : by Bimal Mitra Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

मुझे विश्वास है | : विमल मित्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Mujhe Viswas Hai : by Bimal Mitra Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मुझे विश्वास है / Mujhe Viswas Hai
Author
Category
Language
Pages 326
Quality Good
Size 7 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : विमल मित्र लोकप्रियता तात्कालिक प्रभाव के साथ – साथ एक सार्वकालिक प्रभाव छोड़ जाती है | यही कारण है कि एक ओर जहाँ सामान्य पाठकवर्ग को उनकी किस्सागोई में मनौरंजन के साथ – साथ अपने इर्द – गिर्द फैले समाज के जीवन की झांकी तथा सुख दुःख की कहानी सामने आती है, वही दूसरी ओर विशिष्ठ वर्ग के पाठको को उनके एपिक उपन्यासों में नयी – नयी अर्थ – छवियाँ और तीसरे आयाम का संकेत मिलता है………

Pustak Ka Vivaran : Bimal Mitr Lokapriyata Tatkalik prabhav ke Sath – Sath ek sarvakalik prabhav chhod jati hai. Yahi karan hai ki ek or jahan samany pathakavarg ko unki kissagoi mein manoranjan ke Sath – Sath apne Ird -Grd phaile samaj ke jian ijhankitatha sukh duhkh ki ahani samne ati hai, Vahi doosari or vishishth varg ke pathako ko unke epik Upanyason mein Nayi – Nayi Arth – Chhaviyan aur tisare ayam ka sanket milta hai………

Description about eBook : Bimal Friend’s popularity leaves an all-time impact with immediate effect. This is the reason that on the one hand, the story of general life of the readership in their excitement, as well as the tableau of life of the society spread around and the happiness of sadness, the readers of the particular class on the other side are new to their epic novels. – New meaning – indicates images and third dimension……

“दोस्ती निस्संदेह रूप से निराश प्रेम की कसक के लिए उत्तम मरहम है।” ‐ जेन ऑस्टिन (१७७५-१८१७)
“Friendship is certainly the finest balm for the pangs of disappointed love.” ‐ Jane Austen (१७७५-१८१७)

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment