पार्वती के कंगन : ललित शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कविता | Parvati Ke Kangan : by Lalit Shukla Hindi PDF Book – Poem (Kavita)

पार्वती के कंगन : ललित शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कविता | Parvati Ke Kangan : by Lalit Shukla Hindi PDF Book - Poem (Kavita)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name पार्वती के कंगन / Parvati Ke Kangan
Author
Category, , , ,
Language
Pages 134
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : ‘सोजालोवी’ के बाद मेरा यह दूसरा रिपोर्ताज संकलन है। ये रचनाएं जब पत्र पत्रिकाओं में छपी थी, पाठकों के पत्रों से उस समय मैं उत्साहित हुआ था। पवत-प्रदेश, नगर, उपनगर और मैदानी भाग में घूमते हुए जो साथी मेरे साथ रहे है, उनके नाम जाने-अनजाने रचनाओं में आ गए है। इन रचनाओं की दुनिया को बहुत……

Pustak Ka Vivaran : Sojalovi ke bad mera yah doosara Riportaj sankalan hai. Ye Rachanayen jab patra patrikaon mein chhapi thee, pathakon ke patron se us samay main utsahit huya tha. Pavat-pradesh, nagar, upanagar aur maidani bhag mein ghoomate huye jo sathi mere sath rahe hai, unake nam jane-anajane rachanaon mein aa gaye hai. In Rachanayon ki duniya ko bahut………..

Description about eBook : This is my second report collection after Sojalovi. When these compositions were published in magazines, I was excited by the letters of the readers. The names of the companions who have been with me while wandering in the holy region, cities, suburbs and plains have come in known and unknown creations. The world of these creations is very………..

“जीवन में सफलता इतना अधिक प्रतिभा अथवा अवसर का विषय नहीं है जितना वह लक्ष्य के प्रति प्रतिबद्धता और डटे रहने का है।” ‐ सी. डब्ल्यू. वेन्डेट
“Success in life is a matter not so much of talent or opportunity as of concentration and perseverance.” ‐ C.W. Wendte

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment