सभ्य मानव का इतिहास : भगवत शरण उपाध्याय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – जीवनी | Sabhy Manav Ka Itihas : by Bhagwat Sharan Upadhyay Hindi PDF Book – Biography (Jeevani)

सभ्य मानव का इतिहास : भगवत शरण उपाध्याय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - जीवनी | Sabhy Manav Ka Itihas : by Bhagwat Sharan Upadhyay Hindi PDF Book - Biography (Jeevani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सभ्य मानव का इतिहास / Sabhy Manav Ka Itihas
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 176
Quality Good
Size 9 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : विनोबा आश्रम में रहकर सचमुच तपस्या करते थे | शारीरिक परिश्रम करने में आपको विचित्र आनन्द आता था | अत्यधिक परिश्रम करने के कारण वह दुर्बल भी हो चले थे, किन्तु इढ़ इच्छाशक्ति के कारण कभी थकान अनुभव न करते थे | कुछ ही समय में सब आश्रमबासी समक्ष गये कि बिनोबा ……….

Pustak Ka Vivaran : Vinoba Ashram mein Rahkar Sachamuch Tapasya karate the. Sharirik parishram karane mein Aapako vichitra Aanand Ata tha. Atyadhik parishram karane ke karan vah durbal bhi ho chale the, kintu drdh Ichchhashakti ke karan kabhi Thakan Anubhav na karate the. kuchh hi Samay mein sab Ashramavasi samaksh gaye ki Vinoba………….

Description about eBook : Staying in the Vinoba Ashram literally practiced penance You used to get bizarre pleasure in doing physical work. He was also weak because of his excessive exertion, but he never felt tired due to strong will. In a short time, all the Ashrams came to meet Vinoba…………..

“जिसे इंसान से प्रेम है और इंसानियत की समझ है, उसे अपने आप में ही संतुष्टि मिल जाती है।” ‐ स्वामी सुदर्शनाचार्य जी
“Whoever loves and understands human beings will find contentment within.” ‐ Swami Shri Sudarshnacharya ji

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment