शिक्षाप्रद शास्त्रीय उदाहरण : पं० जुगलकिशोर मुख़्तार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Shiksha Shastriy Udaharan : by Pt. Jugal Kishore Mukhtar Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

शिक्षाप्रद शास्त्रीय उदाहरण : पं० जुगलकिशोर मुख़्तार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Shiksha Shastriy Udaharan : by Pt. Jugal Kishore Mukhtar Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name शिक्षाप्रद शास्त्रीय उदाहरण / Shiksha Shastriy Udaharan
Author
Category, , ,
Language
Pages 341
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

शिक्षाप्रद शास्त्रीय उदाहरण का संछिप्त विवरण : प्राय इसी आशय के वाक्य पाए जाते हैं। वासुदेव जी के इन वचनों से उनकी उदार परिणति और नीतिज्ञता, परिचय मिलता है, और साथ ही स्वयंवर विवाह की नीतिका भी बहुत कुछ अनुभव हो जाता है। वह स्वयंवर-विवाह, जिसमें वर के कुलीन या अकुलीन होने का कोई नियम नहीं देता….

Shiksha Shastriy Udaharan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Pray Isi Aashay ke vaky paye jate hain. Vasudev ji ke in Vachanon se unaki udar parinati aur neetigyata, parichay milata hai, aur sath hi svayanvar vivah ki neetika bhi bahut kuchh anubhav ho jata hai. Vah svayanvar-vivah, jisamen var ke kulin ya akuleen hone ka koi niyam nahin deta…….
Short Description of Shiksha Shastriy Udaharan PDF Book : Often sentences of this intention are found. These words of Vasudev ji reveal his benevolent culmination and ethics, and at the same time a lot of experience of swayamvar marriage is also experienced. Swayamvar-marriage, in which the bridegroom does not give any rules of being noble or inflexible……
“पूरा जीवन एक प्रयोग है। जितने अधिक प्रयोग आप करेंगे, उतना ही अच्छा।” ‐ राल्फ इमरसन
“All life is an experiment. The more experiments you make the better.” ‐ Ralph Waldo Emerson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment