सभी मित्र, हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे और नाम जप की शक्ति को अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये
वीडियो देखें

हिंदी संस्कृत मराठी ब्लॉग

वैतालिक / Vaitalik

वैतालिक : मैथिलीशरण गुप्त द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कविता | Vaitalik : by Maithilisharan Gupt Hindi PDF Book - Poem (Kavita)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name वैतालिक / Vaitalik
Author
Category, , , , , ,
Language
Pages 42
Quality Good
Size 558 KB
Download Status Available

सभी मित्र हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे, ज्यादा से ज्यादा ग्रुप में शेयर करें| भगवान नाम जप की शक्ति को पहचान कर उसे अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये|

पुस्तक का विवरण : प्रकृति पुरुष की है क्रीड़ा, कभी विकास कभी क्रीड़ा। जीव, ब्रह्मा-माया न ताजो, शिव को शक्ति समेत भजो। ऊँचे चढ़ो, खड़े हो तुम, इतने बढ़ो, बड़े हो तुम। तुम्हे प्रलोभन छू न सके, आशा छोड़े, अलग तकें। पड़े पड़े पछताओगे, पैरों से पीस जाओगे। गिरने डर से पड़ना, मृत्यु मार्ग में है अड़ना……..

Pustak Ka Vivaran : Prakrti purush ki hai krida, kabhi vikas kabhi krida. Jeev, brahma-maya na tajo, shiv ko shakti samet bhajo. Unche chadho, khade ho tum, itane badho, bade ho tum. Tumhe pralobhan chhoo na sake, Aasha chhode, alag taken. Pade pade pachhatayoge, pairon se pees jayoge. Girane dar se padana, mrtyu marg mein hai adana……….

Description about eBook : Nature is a man’s sport, sometimes development sometimes sports. Jeeva, Brahma-Maya nor Tajo, please Shiva with strength. Climb higher, you stand, so grow, you are older. You can’t touch the temptation, give up hope, separate. You will regret lying down, you will grind from your feet. Fall from fear, death is on the way ………

“एक अच्छी नींद प्रत्येक बीमारी के लिए एक रोगोपचार है।” मेनांडर
“A good sleep is a healing balm for every ill.” Menander

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment