विश्वामित्र की खोज : यादवेन्द्र शर्मा ‘चन्द्र’ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Vishvamitra Ki Khoj : by Yadvendra Sharma ‘Chandra’ Hindi PDF Book – Story (Kahani)

Book Nameविश्वामित्र की खोज / Vishvamitra Ki Khoj
Author
Category, , , ,
Language
Pages 106
Quality Good
Size 1 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : औरत-जात पर लगाये हुए अधूरे आरोप को सुनकर उसके तेवर बदल गए। अपनी आँखों को उस पर जमाती हुई मौसी “चुप भी रहो , सौ खाकर बिल्ली हज जो चली। भगवान बचाए इन मर्दों औरतों पर अत्याचार-अत्याचार करने वाली जाति का मैं रोम रोम पहचानती हूँ। कैसे धर्मराज बनकर ठाठ से बोल रहे हो ? पहले जरा तू ही बता……….

Pustak Ka Vivaran : Aurat-Jat par Lagaye huye Adhoore Aarop ko sunkar usake Tevar badal gaye. Apani Aankhon ko us par Jamati huyi Mausee chup bhee raho , sau khakar billi haj jo chali. Bhagvan bachaye in Mardon auraton par Atyachar-atyachar karane vali jati ka main Rom Rom Pahachanati hoon. Kaise dharmaraj banakar thath se bol rahe ho ? Pahale jara too hi bata…………

Description about eBook : Hearing the incomplete accusation against the woman and caste, her attitude changed. Auntie, keeping her eyes on him, “Shut up, eat the cat and eat it.” I know Rome, of the caste that tortured and tortured these men and women. How are you speaking chic as Dharmaraja? First you tell me …………

“गलती करने की बजाय देर करना कहीं अधिक अच्छा होता है।” थॉमस जैफरसन
“Delay is preferable to error.” Thomas Jefferson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment