भाग्य बड़ा या कर्म : विष्णु नागर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Bhagya Bada Ya Karm : by Vishnu Nagar Hindi PDF Book – Social (Samajik)

भाग्य बड़ा या कर्म : विष्णु नागर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Bhagya Bada Ya Karm : by Vishnu Nagar Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भाग्य बड़ा या कर्म / Bhagya Bada Ya Karm
Author
Category,
Language
Pages 12
Quality Good
Size 6.7 MB
Download Status Available

भाग्य बड़ा या कर्म का संछिप्त विवरण : लेकिन ज्यादातर लोगों का छप्पर फटता नहीं। छप्पर टूटता जरूर रहता है। उसमें से बरसात का पानी गिरता रहता है। उसमें से कड़ी धूप आती रहती है। उसमें से धूल गिरती रहती है। यह फर्क ही मालूम नहीं पड़ता कि वे सड़क पर रह रहे हैं या छत के नीचे ! सब एक समान हो जाता है। हमारे भारत देश में भाग्य का खेल कुछ ज्यादा ही चलता है। भाग्य बताने क॑ नाम पर ज्योतिषी……..

Bhagya Bada Ya Karm PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Lekin Jyadatar Logon ka chhappar phatata nahin. Chhappar Tootata jaroor rahata hai. Usamen se Barsat ka Pani Girata rahata hai. Usamen se kadi dhoop Aati rahati hai. Usamen se Dhool Girati rahati hai. Yah phark hi maloom nahin padata ki ve sadak par rah rahe hain ya chhat ke Neeche ! Sab ek saman ho jata hai. Hamare Bharat Desh mein bhagy ka khel kuchh jyada hi chalata hai. Bhagy batane ka nam par Jyotishi……..
Short Description of Bhagya Bada Ya Karm PDF Book : But the roof of most people does not explode. The roof keeps breaking. Rain water keeps falling from it. Strong sunlight keeps coming out of it. Dust keeps falling from it. It doesn’t matter whether they are living on the street or under the roof. Everything becomes equal. In our country of India, the game of luck is very much played. Astrologers in the name of fortune telling………….
“ज्ञान में पूंजी लगाने से सर्वाधिक ब्याज मिलता है।” ‐ बेंजामिन फ्रेंकलिन
“An investment in knowledge pays the best interest.” ‐ Benjamin Franklin

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment