देवी वीरा : वीरा फिगनर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आत्मकथा | Devi Veera : by Veera Fignar Hindi PDF Book – Autobiography (Atmakatha)

देवी वीरा : वीरा फिगनर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - आत्मकथा | Devi Veera : by Veera Fignar Hindi PDF Book - Autobiography (Atmakatha)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name देवी वीरा / Devi Veera
Author
Category, , , , , ,
Pages 278
Quality Good
Size 69 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : हिंसा और अहिंसा के विवाद को छोड़कर भी, यह अनुभव से देखा गया है कि एक ऐसे आदमी का स्थान और बल्लिदान जो अपने सिद्धान्तों पर बराबर दृढ़ रहता है और अपने सिद्धान्तों को खुले आम पुकारता हुआ उनके लिए कष्ट सहन करता है, अन्य बहुत से आदिमियों को उसकी ओर खींच लेता है, ओर उसी के समान बल्निदान करने को तैयार कर देता है। इस प्रकार बढ़ता हुआ यह चक्र……

Pustak Ka Vivaran : Hinsa Aur Ahinsa ke vivad ko chhodakar bhee, Yah Anubhav se dekha gaya hai ki ek aise Aadamee ka sthan aur ballidaan jo apane siddhanton par barabar drdh rahata hai aur apane siddhanton ko khule Aam pukarata huya unake liye kasht sahan karata hai, any bahut se aadimiyon ko usakee or kheench leta hai, or usee ke saman balnidan karane ko taiyar kar deta hai. Is Prakar badhata huya yah chakr………

Description about eBook : Except in the controversy of violence and non-violence, it has been seen from experience that the place and balladan of a man who is equally firm on his principles and openly calls his principles to suffer for them, many other primitives Pulls him towards him, and makes him ready to do the same. Thus this growing cycle………

“ऐसे सभी व्यक्ति जिन्होंने महान उपलब्धियां हासिल की हैं, वह महान स्वप्नदृष्टा भी होते हैं।” ओरिसन स्वैट मार्डेन
“All men who have achieved great things have been great dreamers.” Orison Swett Marden

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment