ज्योतिष कौमुदी : पं० दुर्गा प्रसाद शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ज्योतिष | Jyotish Kaumudi : by Pt. Durgaprasad Shukla Hindi PDF Book – Astrology (Jyotish)

ज्योतिष कौमुदी : पं० दुर्गा प्रसाद शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ज्योतिष | Jyotish Kaumudi : by Pt. Durgaprasad Shukla Hindi PDF Book - Astrology (Jyotish)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name ज्योतिष कौमुदी / Jyotish Kaumudi
Author
Category, ,
Language
Pages 244
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : नक्षत्र जातक की कुंडली में अपनी स्थिति के अनुसार शुभ-अशुभ फल के साथ-साथ नाना प्रकार की व्याधियों के कारक भी बनते हैं। किसी भी जातक के जन्म नक्षत्र का उस जातक के व्यक्तित्व, स्वभाव आदि पर पर्याप्त प्रभाव पड़ता है। नक्षत्रों के शुभ-अशुभ प्रभावों का आकलन कर कोई भी व्यक्ति अपने दोषों को दूर कर गुणों में वृद्धि कर सकता है। “ज्योतिष…….

Pustak Ka Vivaran : Nakshatra jatak ki Kundali mein Apani Sthiti ke Anusar Shubh-Ashubh phal ke sath-sath Nana prakar ki Vyadhiyon ke karak bhi banate hain. Kisi bhi jatak ke janm Nakshatra ka us jatak ke vyaktitv, svabhav Aadi par paryapt prabhav padata hai. Nakshatron ke shubh-ashubh prabhavon ka Aakalan kar koi bhi vyakti apane doshon ko door kar Gunon mein vrddhi kar sakata hai. “Jyotish…….

Description about eBook : According to their position in the horoscope of the Nakshatra Jataka, there are factors of auspicious and inauspicious results as well as various types of diseases. The birth constellation of any person has a substantial effect on the personality, nature, etc. of that person. By assessing the auspicious and inauspicious effects of Nakshatras, any person can remove his defects and increase his qualities. “Astrology……..

“लोगों का अपनी शक्ति खो देने का सबसे आम तरीका है उनकी यह सोच कि उनके पास शक्ति है ही नहीं।” ‐ ऐलिस वॉकर
“The most common way people give up their power is by thinking they don’t have any.” ‐ Alice Walker

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment