लौटता हुआ दिन : उपेन्द्रनाथ अश्क द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Lautata Hua Din : by Upendra Nath Ashk Hindi PDF Book

Book Nameलौटता हुआ दिन / Lautata Hua Din
Author
Category, ,
Language
Pages 143
Quality Good
Size 7 MB
Download Status Available

लौटता हुआ दिन का संछिप्त विवरण : ‘लौटता हुआ दिन ‘ मेरे नाटक ‘कैद’ का संशोधित, परिवर्तित, किचित परिवर्धित कहूँ की सुरु से लेकर अंत तक दोबारा लिखा गया नया वर्शन है और चूकी इस प्रक्रिया में इसके आधारभूत विचार में बहुत हे सूक्ष्म लेकिन यकीनी अंतर आ गया है, इसलिए मैंने इसका नाम भी बदल दिया…

Lautata Hua Din PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Lautata hua din mere naatak kaid ka sanshodhit, parivartit, kichit parivardhit kahoon kee suru se lekar ant tak dobaara likha gaya naya varshan hai aur chookee is prakriya mein isake aadhaarabhoot vichaar mein bahut he sookshm lekin yakeenee antar aa gaya hai, isalie mainne isaka naam bhee badal diya………….
Short Description of Lautata Hua Din PDF Book : ‘Returning day’ is the new version written in my drama ‘Capture’, revised, changed, changed, changed from the beginning to the end, and in this process there is a lot of subtle but yaky difference in its basic idea I also changed its name…………..
“अपने मित्र को उसके दोषों को बताना मित्रता की सबसे कठोर परीक्षा होती है।” ‐ हैनरी वार्ड बीचर
“It is one of the severest tests of friendship to tell your friend his faults.” ‐ Henry Ward Beecher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment