तीन बलवान औरतें : जापान की एक लोककथा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Teen Balwan Auraten : Japanese Folktale Hindi PDF Book

तीन बलवान औरतें : जापान की एक लोककथा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Teen Balwan Auraten : Japanese Folktale Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name तीन बलवान औरतें : जापान की एक लोककथा / Teen Balwan Auraten : Japanese Folktale
Category, , ,
Pages 25
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

तीन बलवान औरतें : जापान की एक लोककथा का संछिप्त विवरण : सैकड़ो वर्ष पहले जापान मे एक प्रसिद्ध पहलवान रहता था। एक बार सम्राट के सामने कुश्ती लड़ने के लिए, वह राजधानी की ओर जा रहा था। छोटे पेड़ों के तीनों जैसे मोटी टांगों के सहारे, लंबे डग भरता हुआ वह चल रहा था। वह सात घंटो से चल रहा था और शायद बिना थके हुए वह सात घंटे और भी चल सकता था……….

Teen Balwan Auraten : Japanese Folktale PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : saikado varsh pahale jaapaan me ek prasiddh pahalavaan rahata tha. ek baar samraat ke saamane kushtee ladane ke lie, vah raajadhaanee kee or ja raha tha. chhote pedon ke teenon jaise motee taangon ke sahaare, lambe dag bharata hua vah chal raha tha. vah saat ghanto se chal raha tha aur shaayad bina thake hue vah saat ghante aur bhee chal sakata tha………….
Short Description of Teen Balwan Auraten : Japanese Folktale PDF Book : Hundreds of years ago, there was a famous wrestler in Japan. Once in front of the emperor to fight a wrestling, he was heading towards the capital. He was walking on a long dash, with the help of thick legs, like the three of the small trees. He was walking for seven hours and probably could not walk without seven hours more…………..
“सदा जवान रहने के लिए मुख का सौंदर्य नहीं, मस्तिष्क की उड़ान ज़रूरी है।” – मार्टी बुचेला
“When it comes to staying young, a mind-lift beats a face-lift any day.” – Marty Bucella

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment