विवेक ज्योति फरवरी २०२१ : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – पत्रिका | Vivek Jyoti February 2021 : Hindi PDF Book – Magazine (Patrika)

विवेक ज्योति फरवरी २०२१ : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - पत्रिका | Vivek Jyoti February 2021 : Hindi PDF Book - Magazine (Patrika)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name विवेक ज्योति फरवरी २०२१ / Vivek Jyoti February 2021
Author
Category,
Language
Pages 48
Quality Good
Size 4,4 MB
Download Status Available

विवेक ज्योति फरवरी २०२१ का संछिप्त विवरण : उसके लिये जगत का कोई भी कार्य असम्भव नहीं रह जाता। इसके अतिरिक्त उसके जीवन में त्रुटियाँ नहीं होतीं, वह हिंसक दुराचारी नहीं होता। क्योंकि ऐसा व्यक्ति सबमें उसी शक्ति को देखकर सबसे प्रेम करता है, वह किसी से घृणा नहीं करता। स्वामीजी कहते हैं – “जो व्यक्ति अपनी आत्मा को सब जीवों में स्थित देखता है और आत्मा में……

Vivek Jyoti February 2021 PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Uske liye Jagat ka koi bhi kary Asambhav nahin rah jata. Iske Atirikt uske jeevan mein Trutiyan nahin hotin, vah hinsak Durachari nahin hota. Kyonki aisa vyakti sabamen usi shakti ko dekhakar sabase prem karata hai, vah kisi se ghrna nahin karata. Svami ji kahate hain – “Jo Vyakti Apni Atma ko sab jeevon mein sthit dekhata hai aur Atma mein……..
Short Description of Vivek Jyoti February 2021 PDF Book : For him no work in the world remains impossible. Apart from this, there are no errors in his life, he is not a violent abuser. Because such a person, seeing the same power in everyone, loves everyone, he does not hate anyone. Swamiji says – “The person who sees his soul situated in all living beings and in the soul………
“निकम्मे लोग सिर्फ खाने पीने के लिए जीते हैं, लेकिन सार्थक जीवन वाले जीवित रहने के लिए ही खाते और पीते हैं।” ‐ सुकरात
“Worthless people live only to eat and drink; people of worth eat and drink only to live.” ‐ Socrates

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment