खगोल विज्ञान रोल प्ले द्वारा : टी. वी. वेंकटेश्वरन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – विज्ञान | Khagol Vigyan Role Play : by T.V. Venkateswaran Hindi PDF Book – Science (Vigyan)

Book Nameखगोल विज्ञान रोल प्ले द्वारा / Khagol Vigyan Role Play
Author
Category, ,
Language
Pages 64
Quality Good
Size 4.8 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इस चक्कर को कुछ बार दोहराएं, तब तक जब तक कि सारे बच्चे इस बात को अच्छी तरह समझ कर सुश्री पृथ्वी की हर स्थिति का समय आसानी से बता सकें। इसके लिये वे नाक, कोहनी, पीठ आदि की स्थिति को सूर्य के सम्बन्ध में देखें। उन्हें समय 5:54 जैसी शुद्धता से नहीं बताना है पर सुबह, शाम लगभग कितना बजा होगा इसका अन्दाजा लगाना है……..

Pustak Ka Vivaran : Is Chakkar ko kuchh bar doharayen, tab tak jab tak ki sare bachche is bat ko Achchhi tarah samajh kar sushri prthvi ki har sthiti ka samay Aasani se bata saken. isake liye ve nak, kohani, peeth Aadi kee sthiti ko soory ke Sambandh mein dekhen. Unhen samay 5:54 jaisi Shuddhata se nahin batana hai par subah, Sham lagbhag kitana baja hoga isaka andaja lagana hai………

Description about eBook : Repeat this cycle a few times, until all the children understand this very well and can easily tell the time of every state of Ms. Earth. For this, they should look at the position of nose, elbow, back etc. in relation to the sun. They do not have to tell the exact time like 5:54, but have to estimate how much will be there in the morning, evening …….

“अपने डैनों के ही बल उड़ने वाला कोई भी परिंदा बहुत ऊंचा नहीं उड़ता।” विलियम ब्लेक (१७५७-१८२७), अंग्रेज़ कवि व कलाकार
“No bird soars too high if he soars with his own wings.” William Blake (1757-1827), British Poet and Artist

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment